शनिवार, 14 जुलाई 2018

खग्रास चंद्रग्रहण 27 -7-2018 को भारत का पहला और अंतिम पढ़ें -झा "मेरठ "

27 /7 /2018 यानि आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा दिन शुक्रवार की रात्रि 23 /45 बजे चन्द्रमा को ग्रहण लगना शुरू होगा | चंद्रग्रहण की समाप्ति मध्यरात्रि के उपरान्त यानि 03 /49 पर होगी | ग्रहण का मध्य रात्रि अर्थात -01 बजे से 02 बजकर 43 मिनट तक खग्रास की स्थिति के कारण चन्द्रमा अदृश्य यानि लुप्त सा प्रायः रहेगा | --यह खग्रास ग्रहण 2018 का भारत में दिखने वाला पहला और आखिरी होगा | इस ग्रहण को सम्पूर्ण भारत भूमि से देखा जा सकेगा | -----अन्य देशों में --27 /7 /2018 यानि शुक्रवार की रात्रि खग्रास चन्द्र ग्रहण को -आस्ट्रेलिया ,इंडोनिशया ,मलेशिया ,थाइलैण्ड ,न्यूजीलैंड ,फिलीपींस ,म्यमार ,जापान ,चीन ,नेपाल ,रूस ,मंगोलिया ,पाकिस्तान ,अफगानिस्तान ,ईरान ,इराक ,साउदीअरब ,अल्जीरिया ,लंदन ,मिश्र ,अफ्रीका ,गणराज्य ,साथ ही अन्य खाड़ी देश ,दक्षिणी अमेरिका ,एटलांटिक महासागर ,हिन्द महासागर ,श्रीलंका ,फिजी --आदि देशों से इस खग्रास चंद्रग्रहण को देखा जा सकेगा | ---------सूतक की बात करें तो ---आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा 27 जुलाई 2018 दिन शुक्रवार को दिन -2 /54 से प्रारंभ होगा | -----क्या नियम करें ---बाल ,वृद्ध ,रोगी और आशक्तजनों को छोड़कर अन्य किसी को भोजन +शयन नहीं करना चाहिए  | ---ग्रहण में लाभ हेतु क्या करें ---ग्रहण शुरू होने से पूर्व स्नान ,ग्रहण के बीच में हवन -यज्ञ ,पूजा -पाठ ,देवार्चन ,ग्रहण के अंत में दान और ग्रहण समाप्त होने पर वस्त्र सहित स्नान ,उसके बाद बिम्ब दर्शन करके प्राणी शुद्ध होता है | ----प्रमाण ---"ग्रहस्यमाने भवेत्स्नानं ग्रस्ते होमो विधीयते ,म्युच्यमाने भवेद्दानं मुक्ते स्नानं विधीयते ,सर्व गंगा समं तोयं सर्वे व्यास समद्विजा ,सर्व भूमि समं दानं ग्रहणे चंद्र सूर्ययोः "----अभिप्राय --ग्रहण के समय साफ जल चाहे जहाँ से मिले वो श्रीगंगाजल के समान होता है | सभी द्विज {भूदेव }व्यास के समान होते हैं और दान सर्वभूमि दान के समान माना जाता है | -----"चन्द्रग्रहणे तथा रात्रौ स्नानं दानं प्रससयते ---अर्थात रात्रि के समय भी स्नान -दान की मान्यता है | -----जिन माताओं के गर्भ में शिशु पल रहे हों --उन्हें तेज धारदार चाकू का प्रयोग सब्जी काटने हेतु नहीं करना चाहिए | साड़ी के पल्ले को गेरू के रंग को रंगकर बैठने से शिशु सुरक्षित रहता है | ------गुरुपूर्णिमा --के दिन सूतक की शुरुआत 2 /54 से है अतः गुरु की पूजा पूर्व करने में दोष नहीं लगेगा | ----ग्रहण का किस राशि पर कैसा प्रभाव होगा ----मेष ,सिंह ,कन्या ,वृश्चिक ,मीन राशि वालों के लिए उत्तम रहेगा ,वृष ,कर्क ,धनु राशि वालों के लिए मध्यम रहेगा | मिथुन ,तुला ,मकर और कुम्भ राशि वालों के लिए अहितकर रहेगा | ------आपका एस्ट्रो वर्ल्ड हिन्दी सेर्विस झा "मेरठ-- फ्री ज्योतिष एकबार सेवा हेतु यहाँ पधारें ----https://www.facebook.com/kanhaiyalal.jhashastri

सोमवार, 9 जुलाई 2018

13 /07 /2018 से 27 /7 /18 तक की भविष्यवाणी को परखें -झा "मेरठ "

श्रीसम्वत -२०७५ शाके -१९४० अर्थात -13 /जुलाई 2018 से 27 /जुलाई 2018 तक आषाढ़ शुक्ल पक्ष चलेगा | इस पक्ष की भविष्यवाणी की बात करें उससे पूर्व एक प्रमाण देखें ---"आगे पीछे बहुत ग्रह ,रवि राहु आगार | राजनीति सह द्विन्द से ,होवे बहुत बिगार "---अभिप्राय --कर्क एवं मकर राशि में पापग्रह विश्व में तनाव उत्पन्न करेंगें | भारत में राजनैतिक पार्टियां एक दूसरे के प्रति अपशब्द यानि घृणित प्रचार करेंगें | -भावार्थ -नेताओं की शह पर दंगें -फसाद जानलेवा सिद्धि होंगें | केतु ग्रह के सान्निध्य के कारण चन्द्रग्रहण होने से धार्मिक उन्माद फैलेगा | चारो तरफ हो हल्ला मचेगा | भयभीत जनता इधर से उधर भागती फिरेगी | प्रभावी राष्ट्रनायक एवं प्रादेशिक सरकार संकटग्रस्त हो सकती है | कश्मीर के मामले में सचेत रहना जरुरी है | -----तेजी मन्दी की बात करें तो --"बुधो वक्रो यदा जातः इक्ष्वादिनां महर्घतां "भाव --वक्री बुध -रसीले पदार्थ जैसे ---दूध ,दही ,चीनी ,चित्रित वस्तुएं ,सोना ,चाँदी ,मेवा ,मशीनरी ,दवा ,दारू ,कलपुर्जे मंहगे करेगा | ----आकाश लक्षण की बात करें तो --जलतत्व की राशियों में ग्रह संयोग -आंधी -तूफान ,मेघाडंबर ,जहाँ -तहाँ वर्षा करेगा | देश के पूर्वोत्तर भागों में अतिवृष्टि ,दिग्दाह ,भूकम्पादि महोत्पात के चलते विशेष हानि हो सकती है | यान -खान रेलादि कुघटनाचक्र ,यातायात में भारी व्यवधान होगा | ---आज एक योग की बात जानें ---"केंद्रुमयोग " जन्मकुण्डली में चन्द्रमा से एक घर आगे या पीछे कोई ग्रह न हो तो केंद्रुम योग बनता है | इस योग में जन्म लेने वाले जातक के पास धन स्थीर नहीं रहता है | प्रमाण --आगे पीछे चन्द्र के ,जो न परै ग्रह कोय ,केंद्रुम यह योग है ,सब धन डारै खोय "-----आपका एस्ट्रो वर्ल्ड हिन्दी सेर्विस झा "मेरठ-- फ्री ज्योतिष एकबार सेवा हेतु यहाँ पधारें ----https://www.facebook.com/kanhaiyalal.jhashastri

शनिवार, 7 जुलाई 2018

13/07/18 को खण्डग्रास "सूर्यग्रहण" केवल विदेशों में दिखेगा ?-झा "मेरठ

"संवत -२०७५ अर्थात -अप्रैल -2018 से मार्च -2019 तक -समस्त जगत में पांच ग्रहण दिखेंगें -जिनमें तीन सूर्यग्रहण  एवं दो चंद्रग्रहण होंगें | भारतीय भूभागों पर नवसंवत 2075 यानि अप्रैल -18 से मार्च 19 तक यानि केवल 27 जुलाई -2018 को होने वाला खग्रास चंद्रग्रहण ही देखा जा सकेगा | -----अस्तु ---13 /07 /2018 शुक्रवार को सुबह भारतीय स्टेन्डर समय के अनुसार प्रातः -7 /19 से 9 /44 बजे के बीच खण्डग्रास सूर्यग्रहण होगा | --जिसे --भारत के बाहर अन्यदेशों जैसे -एडिलेड, बैंडिगो ,जिलोंग ,होबर्ट ,लानसेस्टन,मेलबोर्न ,माउन्ट गम्बीयर ,आ स्ट्रेलिया , इत्यादि जगहों पर सूर्य को मामूली ग्रहण लगेगा | --इस ग्रहण को भारत से नहीं देखा जा सकेगा | --अतः भारत के किसी भी भूभागों पर सूतक -पातक मान्य नहीं होगा | ------आपका एस्ट्रो वर्ल्ड हिन्दी सेर्विस झा "मेरठ-- फ्री ज्योतिष एकबार सेवा हेतु यहाँ पधारें ----https://www.facebook.com/kanhaiyalal.jhashastri

सोमवार, 25 जून 2018

29/6 से 13 /जुलाई -18 तक की भविष्यवाणी को परखकर देखें -झा "मेरठ "

संवत -2075 शाके -1940 तदनुसार 29 जून 18 से 13 /07 /2018 यानि आषाढ़ कृष्ण पक्ष की भविष्यवाणी की बात करें तो -पहले एक प्रमाण देखें --"शुक्रस्य पंचवारस्यू यत्र मासे निरन्तरम ,प्रजा वृद्धि सुभिक्षं च सुखं तत्र प्रवर्तते "----अर्थात मास में पांच शुक्रवार होना उत्तम माना जाता है | अभिप्राय ---उक्त प्रमाण के अनुसार किसी देश या प्रदेश अथवा किसी महानगरों में सुख शान्ति दिखेगी | दो वर्ग विशेष या दो देशों में दोस्ती बढ़ेगी | सन्धि समन्वय संभव है | धनु का शनि कुछ गड़बड़ करायेगा | मन्दिर ,मस्जिद ,गुरुद्वारा ,गिरिजाघर में धार्मिक उन्माद के कारण कुछ अप्रिय घटना देखने को मिल सकती है | चुनावी सरगर्मी दंगा -फसाद के रूप में बदल सकती है | नेता उत्तेजनात्मक गतिविधियों को बढ़ायेंगें | मेरठ ,मुरादाबाद ,बरेली ,लखनऊ ,रामपुर ,हैदराबाद में विशेष सावधानी रखने से हितकर रहेगा | ----तेजी मन्दी की बात करें तो --सिंह का शुक्र --सोना ,ताम्बा ,पीतल में तेजी करेगा ,साथ ही अनाजों में जैसे -दाल ,चावल ,चीनी ,गुड़,शक़्कर के दाम बढ़ेंगें | वर्षा गतिरोध के कारण भारी घुटन होगी | सरकारी तौर पर कड़े कदम नहीं उठाये गये तो मंहगाई बढ़ेगी | -----आकाश लक्षण की बात करें तो --तीव्रवायुवेग ,बादलचाल ,जहाँ -तहाँ न्यूनाधिक वर्षा से राहत मिलेगी | --श्री शिवजी ने कहा --सिंह शुक्र जब होय भवानी ,चले पवन नहीं वर्षे पानी ----यानि मास पर्यन्त शुक्र सिंह राशि में वर्षा में रुकाबट डालेगा | देश के पूर्व -दक्षिण में अत्यधिक वर्षा से क्षति होगी | यातायात में बाधा ,भूकम्प ,,दिग्दाह की सम्भावना बढ़ेगी |   आपका एस्ट्रो वर्ल्ड हिन्दी सर्विस झा "मेरठ फ्री ज्योतिष एकबार सेवा हेतु यहाँ पधारें ----https://www.facebook.com/kanhaiyalal.jhashastri

-आपका एस्ट्रो वर्ल्ड हिन्दी सर्विस झा "मेरठ "

खग्रास चंद्रग्रहण 27 -7-2018 को भारत का पहला और अंतिम पढ़ें -झा "मेरठ "

27 /7 /2018 यानि आषाढ़ शुक्ल पूर्णिमा दिन शुक्रवार की रात्रि 23 /45 बजे चन्द्रमा को ग्रहण लगना शुरू होगा | चंद्रग्रहण की समाप्ति मध्यरात्रि ...